लेखक

जादु के लिये जादुगर हाथों का इस्तेमाल किया करते हैं!

दंव्धों के लिये राजा-सेना तलवारों का इस्तेमाल किया करते हैं!

लेकिन हम लेखक तो शब्दों से ही बेमिसाल कमाल किया करते है!!

Advertisements

वो

एक इन्सान वो होता है…

जो खुद चोट खा कर भी दूसरों को दवा दे सके।

और 

एक लेखक वो होता है …

जो उस चोट के दर्द में भी शराब सा मज़ा ले सके।।